Wednesday, February 28, 2018

याद

हमें जेहन में रख लो 
पनीली याद सा
या ज़ुबां पर रख लो 
अचारी स्वाद सा
कभी ज़िक्र करोगे हमारा
तो इनायतें बरसेंगी तुम पे 

No comments:

Post a Comment